फिर एक बार पीएम मोदी सरकार में संकट मोचन बने जनरल वी के सिंह-

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp


गाजियाबाद। उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं समाजसेवी अजय गुप्ता ने कहा कोई ऐसे ही जनरल वी के सिंह नहीं बन जाता,जब-जब देश में या विदेश में भारतीयों पर आपदा आई,पीएम मोदी की गुड वर्क में संकट मोचन के रूप में,स्थानीय सांसद जरनल वी के सिंह सामने आए,देश हो या विदेश हो,भारतीयों की जब भी कोई समस्या आती है,हनुमान के रूप में संजीवनी बूटी लेकर स्थानीय सांसद का स्वरूप सामने आता है। अभी हाल ही में उत्तराखंड में सुरंग में फंसे मजदूरों को निकालने का कार्य भी,पीएम मोदी ने उनके कंधों पर भरोसा जताते हुए सौंप दिया। कोई ऐसे ही जनरल वी के सिंह नहीं हो जाता,देश प्रेम,मानव जाति प्रेम,नागरिकों की सुरक्षा उनके जीवन का सबसे बड़ा लक्ष्य है,देश का हर नागरिक उनके जज्बे को सैल्यूट करता है,और उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है।  

भारत विकास परिषद मुख्य शाखा के द्वारा आयोजित मुफ्त हेल्थ कार्ड का दुसरा लगाया गया शिविर

भारत विकास परिषद मुख्य शाखा के द्वारा आयोजित मुफ्त हेल्थ कार्ड का दुसरा शिविर  शुक्रवार  14 तारीख मकनपुर डिस्पैंसरी डां स्मृति शर्मा  के सोजन्य से

Read More »

आईटीएस डेन्टल कॉलेज में दूसरे एडवांस फेशियल एस्थेटिक्स कोर्स के छठे मॉड्यूल का आयोजन

आईटीएस डेन्टल कॉलेज, गाजियाबाद के पेरियोडोन्टोलॉजी विभाग द्वारा दिनांक 12 जून से 14 जून, 2024 को दूसरे एडवांस फेशियल एस्थेटिक्स कोर्स के छठे मॉड्यूल का

Read More »

विद्यावती मुकन्द लाल गर्ल्स कॉलेज, में योग कार्यशाला का आयोजन किया गाया

 ग़ाज़ियाबाद  विद्यावती मुकन्द लाल गर्ल्स कॉलेज,  में राष्ट्रीय सेवा योजना की दोनों इकाइयों के द्वारा  प्राचार्या प्रो0 (डा.)शिखा सिंह के कुशल मार्गदर्शन में कार्यक्रम अधिकारी

Read More »

पार्किंग ठेकेदार के मकान में लगी भीषण आग,बचाऔ बचाऔ करते हुए खामोश हो गई पांच जिंदगियां

गाजियाबाद के लोनी के बेहटा हाजीपुर गांव पार्किंग ठेकेदार सारिक के मकान में उनके परिवार के पांच लोगों की जिंदगी बचाओ-बचाओ चिल्लाते खामोश हो गई।

Read More »

गुजरात राजकोट के गेमिंग सेंटर व दिल्ली के अशोक विहार के बेबी केयर सेन्टर की घटना का संज्ञान लेकर

गाजियाबाद के नर्सिंग होम,हॉस्पिटलों,स्कूलों व कोचिंग सेंटरों को अगिन शमन विभाग से अनापत्ति प्रमाणपत्र केंद्रों के बेसमेंट की जाँच करने के लिए उजागर फाऊंडेशन ने

Read More »